Advertisement

आज कौन सा दिन है | Aaj Konsa Day Hai | आज कौन सा दिवस है

नमस्कार दोस्तों इस लेख में आप जानेंगे आज कौनसा डे है,दोस्तों हर दिन लाखों लोग Google पर बड़ी मात्रा में सर्च करते है की आज कौनसा दिन है,आज कौनसा वार है और आज कौनसा त्यौहार है और इसी में किसी एक सवाल को Google से पूछकर आप इस लेख तक पहुँचे है। 

भारत एक विविधताओं भरा देश और यहाँ पर सनातन हिन्दू धर्म के अलावा कई अनेक धर्म के अनुयायी निवास करते है इस कारण आप देखेंगे भारत में वैज्ञानिक या धार्मिक हर दृष्टि से किसी भी दिन का एक अलग महत्व होता है। इसी प्रकार आज का दिन,आज का वार,आज का त्यौहार या आज का दिवस निम्न प्रकार है। 


हर दिन की अलग तारीख और वार अलग अलग होता है जिस कारण व्यक्ति कई बार जरूरी स्थान पर आज की तारीख और आज का वार भूल जाते है। अगर आप भी उन व्यक्तियों में शामिल है तो चिंता न करें इस लेख को बुकमार्क कर लें या फिर हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्सक्राइब कर लें जिससे आपको भारत में हर दिन के सोने के भाव,राशि और आज की तारीख और आज के वार के बारे में हर दिन जानकारी मिलेगी। इस लेख में आज कौनसा डे है,आज कौनसा वार है और आज कौनसा दिवस है उसके बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे तो लेख को पूरा अवश्य पढ़ें। 




आज कौनसा डे है?


Aaj Konsa Day Hai



  • आज 30 सितंबर 2021 गुरुवार है। 
  • आज 30 सितंबर 2021 Thursday है। 
  • आज का वार गुरुवार है। 



आज कौनसा दिन है?

आज 30 सितंबर 2021 गुरुवार का दिन है। 



सप्ताह में कितने दिन होते है ?


सप्ताह में सात दिन होते है इन सभी दिनों का मतलब अलग अगल होता है और हर दिन कोई नया त्यौहार या राष्ट्रीय - अंतरास्ट्रीय दिवस होता है। सप्ताह निम्न दिन होते है जिन्हें हिन्दू देवी देवताओं को समर्पित किया गया है 

सप्ताह का पहला दिन 


रविवार 


सप्ताह का पहला दिन रविवार होता है यह सुनकर आप जरूर चौंक गए होंगे लेकिन यह बात सही है की सप्ताह का पहला दिन रविवार होता है। इसका कारण है लंका में चैत्र माह के दौरान सबसे पहले सूर्योदय रविवार के दिन हुआ था। रविवार का दिन रवि यानि भगवान सूर्य को समर्पित है और हिन्दू पंचांग में रविवार को ही सप्ताह का पहला दिन माना गया है और दूसरे देशों में रविवार को सप्ताह का आखिरी दिन माना जाता है। इसलिए इस दिन ज्यादतर लोगों द्धारा छुट्टी मनाई जाती है। 

सप्ताह का दूसरा दिन 


सोमवार 


सोमवार सप्ताह का दूसरा दिन होता है और यह भगवान शिव को समर्पित होता है जिस कारण सोम जो भगवान शिव का ही एक अर्थ होता है उस नाम से जाना जाता है। पश्चिमी देश सोमवार को सप्ताह का पहला दिन मानते है और इस दिन अपने काम की नई शुरुआत करते है। हालाँकि पश्चिमी संस्कृति के प्रभाव के कारण भारत में भी यहीं हाल है लोग सोमवार कहने के बजाय Monday कहना पसंद करते है और अपनी संस्कृति के बजाय पश्चिमी संस्कृति को ज्यादा महत्व देते है। 

सप्ताह का तीसरा दिन 


मंगलवार 


मंगलवार सप्ताह का तीसरा दिन होता है जो सोमवार और बुधवार के बीच आता है हालाँकि अंग्रेजी पंचांग के अनुरूप मंगलवार सप्ताह का दूसरा दिन होता है। भारत में हिन्दू पंचांग के अनुसार मंगलवार को सप्ताह का तीसरा दिन माना जाता है और यह भगवान हनुमान को समर्पित है जो प्रभु श्री राम के भक्त थे। 

मंगलवार शब्द मंगल से निकला है और मंगल का अर्थ शुभ होता है यानि मंगलवार को किये कार्य शुभ होते है। मंगलवार के दिन भगवान हनुमान को प्रसन्न करने के लिए आराधना करनी चाहिए और हनुमान जी अपने भक्तों मनोकामना अवश्य पूर्ण करते है। 

सप्ताह का चौथा दिन 


बुधवार 


बुधवार सप्ताह का चौथा दिन होता है जो भगवान श्री गणेश और उनकी माता पार्वती को समर्पित होता है। हिन्दू धर्म के अनुयायी बुधवार के दिन को काफी शुभ मानते है और किसी भी कार्य की शुरुआत भी इसी दिन से करते है। बुधवार के दिन आपको भी भगवान गणेश की आराधना करनी चाहिए जिससे आपकी सारी मनोकामनाऐं भी पूर्ण होती है। बुधवार माँ दुर्गा की भी पूजा की जाती है और माँ अपने भक्तों में विद्या,बुद्धि और बल का प्रवाह करती है। 

सप्ताह का पाँचवा दिन 


गुरुवार या बृहस्पतिवार 


सप्ताह का पाँचवा दिन गुरुवार जिसका सही नाम बृहस्पतिवार है इस दिन को पश्चिमी देशों में सप्ताह का चौथा दिन माना जाता है। बृहस्पतिवार बृहस्पति ग्रह को समर्पित दिन है साथ ही इस दिन भगवान बृहस्पति यानि विष्णु की पूजा करनी चाहिए इससे आपके सभी रुके हुए काम पुरे होंगे चाहे आप संतान सुख प्राप्त करना चाहते हो या विवाह सुख आपकी सभी मनोकामनाऐं पूर्ण होगी इसलिए आपको इस दिन अवश्य ही बृहस्पति भगवान की पूजा अर्चना करके उन्हें प्रसन्न करना चाहिए। 

सप्ताह का छठा दिन 


शुक्रवार 


सप्ताह का छठा दिन शुक्रवार होता है जो धन की देवी लक्ष्मी को समर्पित है और इस वार का नाम शुक्र ग्रह के नाम पर रखा गया है। हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार शुक्रवार सप्ताह का छठा दिन माना जाता है वहीं पर पश्चिमी देशों में शुक्रवार को सप्ताह का पाँचवा दिन माना जाता है। शुक्रवार के दिन माता माता लक्ष्मी की पूजा अर्चना करने से धन की कमी नहीं होती है और आर्थिक तंगी भी नहीं झेलनी पड़ती है। इसके अलावा देवी लक्ष्मी के घर में वास होने घर सुख समृद्धि और खुशियों से भरा होता है। 

शुक्रवार का दिन जितना हिन्दू धर्म में महत्व रखता है उतना ही इस्लाम धर्म के अनुयायियों के लिए भी रखता है इस दिन वे जुम्मा कहते है और मस्जिद जाकर नमाज अदा करते है। 

सप्ताह का सातवाँ दिन 

शनिवार


शनिवार सप्ताह का सातवाँ और आखिरी दिन होता है हिन्दू पंचांगों और शास्त्रों के अनुरूप शनिवार ही सप्ताह का आखिरी और समाप्ति का दिन होता है लेकिन अंग्रेजी पंचांग अलग है जिसके अनुसार शनिवार को सप्ताह का छठा दिन माना जाता है। न्याय के देवता भगवान शनि देव को समर्पित इस वार का नाम उन्ही के नाम पर रखा गया है। शनिवार के दिन शनि देव की पूजा और आराधना करने से शनि देव प्रसन्न होते है और हमारे सभी दुःखो का नाश करते है। 


निष्कर्ष 


उम्मीद है दोस्तों आपको यह लेख पसंद आया होगा और आपको आज कौनसा डे है इसके बारे में जरूर पता चला होगा और दोस्तों आज के दिन आपके एरिया,शहर,राज्य और देश में कौनसा त्यौहार मनाया जा रहा है Comment Box में अवश्य बताए , इसके अलावा किसी प्रकार का सवाल या डॉउट आपके मन में है तो उसे हमारे साथ जरूर साझा करें। 

दोस्तों इसी तरह की महत्वपूर्ण जानकारी अब फेसबुक पर भी उपलब्ध है आपको पास में नजर आ रहे फेसबुक पेज को लाइक और फॉलो करना है और इसके साथ इंस्टग्राम आइकॉन पर क्लिक करके मेरा साथ देना ताकि ऐसी नई नई जानकारियाँ हिंदी में आप तक पहुंचाते रहुँ। 

दोस्तों यह लेख आज कौन सा दिन है | Aaj Konsa Day Hai | आज कौन सा दिवस है पूरी जानकारी हिंदी में  अपने सभी दोस्तों और परिवार के साथ इंस्टाग्राम , व्हाट्सप्प और ट्विटर पर शेयर करें ताकि उन्हें भी सारी जानकारी हिंदी में मिल सकें।




FAQ


आज कौनसा दिन है?

आज 1 अक्टूबर 2021 शुक्रवार का दिन है। 

आज कौनसा डे है?

अंग्रेजी भाषा के अनुरूप आज Friday है। 

आज कौनसी तिथि है?

हिन्दू कैलेंडर अनुसार आज की तिथि आश्विन सुदी नवमी है। 

आज कौनसा वार है?

आज शुक्रवार है। 

15 अगस्त 1947 यानी कि स्वतंत्रता दिवस को कौन सा दिन था ?

15 अगस्त 1947 यानी कि स्वतंत्रता दिवस को शुक्रवार का दिन था। 

26 जनवरी 1950 यानी कि गणतंत्र दिवस को कौन सा दिन था ?

26 जनवरी 1950 यानी कि गणतंत्र दिवस को गुरूवार यानि बृहस्पति वार का दिन था। 

आज कौन सा दिवस है?

आज 30 सितंबर 2021 अंतर्राष्ट्रीय अनुवाद दिवस और अंतर्राष्ट्रीय समुद्री दिवस हैं। 

आज कौनसा त्यौहार है?

आज आश्विन सुदी दशमी का श्राद्ध है। 




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ