नए सोने के भाव 1 जून 2021 को अपडेट होंगे

10/recent/ticker-posts

Stock Market क्या है और इससे पैसे कैसे कमाए पूरी जानकारी हिंदी में

 नमस्कार दोस्तों आपने कभी न कभी किसी के द्धारा Stock Market के बारे में सुना होगा लेकिन क्या जानते है स्टॉक मार्केट क्या है नहीं तो लेख को पूरा पढ़ें। दोस्तोँ स्टॉक जिसे कई शेयर मार्केट के नाम से भी जानते है , इसमें आप अपना पैसा निवेश कर सकते है लेकिन काफी लोग इसे Risky मानते है और कई तो इसके नाम से ही कतराते है लेकिन आज कहीं कंपनिया इंटरनेट पर उपलब्ध है इसे कम रिस्की और सही बताती है जैसे म्यूच्यूअल फंड्स आदि लेकिन फिर भी स्टॉक मार्केट में निवेश करने से पहले हर किसी के मन में पैसे हारने का डर होता है। 

दोस्तों Share Market यानि जिस कंपनी के शेयर आपने खरीदे वे अपना कुछ हिस्सा आपको देती है, अब अगर कम्पनी को फायदा होगा तो आपको भी होगा नुकसान होने पर भी आप उसमें शामिल होंगे। दोस्तों अगर आप भी स्टॉक मार्केट में निवेश करना चाहते है तो स्टॉक मार्किट क्या और इससे पैसे कैसे कमाए लेख को अच्छी तरह से पढें और पूरी जानकारी पाने के पश्चात ही निवेश करने या न करने का फैसला ले। 


Stock Market क्या है 

Stock Market क्या है
 Stock Market क्या है और इससे पैसे कैसे कमाए पूरी जानकारी हिंदी में 

दोस्तों आप पहले ही जान चुके है की शेयर मार्केट और स्टॉक मार्केट एक ही होते है, यह लोगों के नजरिये के ऊपर निर्भर करता है। लेकिन इसका सीधा मतलब शेयर बाजार ही होता है। भारत में दो सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज है जिसमें पहला 1875 में स्थापित  NSE (National stock exchange of India) है और दूसरा 1992 में स्थापित BSE (Bombay Stock Exchange) है NSE demutualized इलेक्ट्रॉनिक स्टॉक एक्सचेंज है। यहाँ पर Shares, Debentures,Derivatives और  Mutual Funds और मार्केट में Sale और Buy किया जाता है। 

स्टॉक मार्केट में किसी भी धोखाधड़ी रोकने का कार्य SEBI भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड द्धारा किया जाता है इससे किसी भी तरह का Froud रोका जा सकता है। NSE और BSE में कंपनी SEBI की अनुमति से Initial public offering ( IPO ) जारी करती है। 


स्टॉक मार्केट कैसे काम करता है।

दोस्तों जब आप स्टॉक मार्केट से जुड़ जाते है तो आप कई कंपनियों के हिस्सेदारी में जुड़ जाते है, जैसे अगर आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते है तो आपको उस कंपनी में कुछ हिस्सा मिलता है इसे हम उदाहरण के साथ जानते है। 

Ex. अगर किसी कंपनी ने शेयर बाजार में 1 लाख शेयर रखें और अगर आप उसमें कंपनी के 10,000 के शेयर खरीद लेते है तो आपको 10% हिस्सेदारी मिलती है। अब अगर कंपनी का लेवल बढ़ता है तो आपने जो शेयर खरीदे थे उनके दाम भी बढ़ते है जिससे आपको फायदा होता है और कंपनी का स्तर कम होने पर शेयर कम हो जाते है और आपको नुकसान उठाना पड़ता है। इस तरह शेयर मार्केट में Profit & Lose कंपनी प्रदर्शन पर निर्भर करता है।    

शेयर बाजार में कंपनी कैसे जोड़े 

 भारत में किसी भी कंपनी को शेयर बाजार में List करने के लिए सबसे पहले कंपनी को SEBI के पास जाना होगा जहाँ पर कंपनी को SEBI के साथ कई लिखित समझौते करने होते है जिसमें सबसे महत्वपूर्ण होता है Red Herring Prospectus Document जिसमें उस कंपनी पूरी जानकारी जैसे कंपनी के पैसे कहा से आते है आदि इस Document में दर्ज होते है। 

जब SEBI की तरफ कंपनी को अनुमति मिल जाती है तो फिर कंपनी शेयर मार्केट में लिस्ट हो जाती है और IPO जारी होती है और फिर कंपनी के शेयर बाजार में आते है और जब कंपनी के सारे शेयर बिक जाते है तो फिर कम्पनी अपने शेयर बेच सकती है और अपने स्तर को बढ़ाती है जिससे ग्रोथ भी काफी देखने को  मिलती है और जो भी कंपनी के निवेसकों को भी फायदा मिलता है। 


स्टॉक या शेयर कैसे खरीदे 

किसी भी कंपनी के शेयर आप स्वतः या फिर किसी ब्रोकर के माध्यम से खरीद सकते है और उस कपंनी में निवेश कर सकते है। वर्तमान में कई कंपनिया जैसे Zerodha और Angel Broking जैसी कंपनिया है जिससे आप शेयर खरीद सकते है, इसके लिए आपको इनमें एक Account बनाना होगा जिसे Demate Account कहते है। 

इससे आपको बाजार की स्थिति, कंपनी के ग्रोथ चार्ट और ट्रेडिंग का अच्छा मार्गदर्शन भी मिलता है। Demate Account में पैसे बैंक अकाउंट से Add करके शेयर खरीद सकते है और जो भी पैसे का आपको Profit होता है उसे आप UPI या अन्य तरीकों से बैंक में Transfer कर सकते है। 

दोस्तों कई कंपनिया जहाँ आप Demate अकाउंट बना सकते है लेकिन वहाँ पर इसके लिए आपसे कुछ चार्ज लिया जा सकता है जो 100,200 और 500 कुछ भी हो सकता है। इसलिए आप Free Demate Account बनाने के लिए यहाँ क्लिक करें और बिना कोई चार्ज के अभी Trading करना शुरू करें। 


Trading कैसे करें 

दोस्तों स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग काफी जाना पहचाना शब्द है , इसमें ट्रेडिंग पर ही काफी हद तक Profit & Lose तय होता है। Trading को सामान्यतः हिंदी अर्थ व्यापार होता है। व्यापार में जब किसी वस्तु को हम कम मूल्य पर खरीदते है और कुछ समय अपने पास रखकर फिर उसे बेच देते है जिससे हमें कुछ लाभ होता है तो इसे Trading के नाम से जाना जाता है। 

Stocks Market में भी पैसे कमाने के लिए आपको ट्रेडिंग करनी होगी इसके लिए आपके पास तीन विकल्प मौजूद होते है जिनमें से जो भी विकल्प आपको अच्छा लगे वो ट्रेडिंग कर सकते है। 

निम्न 3 प्रकार की ट्रेडिंग ज्यादातर लोगों द्धारा की जाती और आप भी कर सकते है। 


Intraday Trading

Intra-day Trading के अंतर्गत आप जो भी शेयर सुबह खरीदते है उन्हें शाम तक बेचना होता है और यह Trading एक दिन में पूरी हो जाती है इसलिए इसे Intra-day Trading के नाम से जाना जाता है। अगर आपने शेयर खरीदे और Market बंद होने पर चाहे आप Profit में हो या lose में आपके शेयर अपने Sale हो जाएंगे। अगर आप नए है तो Intra-day Trading न करें पहले थोड़ा सीखें फिर Try करें। 


Scalper Trading

अगर आप कुछ मिनटों में ही पैसे कमाना चाहते है तो आप Scalper Trading कर सकते है , इसमें आप जो भी शेयर खरीदेंगे वो 10 - 20 मिनट में Sale हो जाते है। Scalper Trading में आपको भारी रकम लगानी होती है इसलिए मुनाफा भी काफी बढ़ा होता है लेकिन इसके साथ बड़े नुकसान के लिए भी तैयार रहें , इसलिए इसमें पैसे तब ही लगाए जब आप Profit को लेकर Sure हो। 


Swing Trading

नए लोगों के लिए Swing Trading करना एक सही निर्णय साबित हो सकता है इसमें आप किसी भी कंपनी के शेयर  खरीद कर अपने पास रख सकते है और जब उनसे आपको कुछ Profit हो तब उन्हें बेच सकते है। Swing Trading को काफी अच्छा माना जाता है की क्यूँकि इसमें आपके अनुसार ही शेयर Sale होते है। हमेशा निफ़्टी फिफ्टी कंपनियों के शेयर ही खरीदे यह टॉप 50 कंपनिया होती है जिन्हें आप NSE की वेबसाइट पर देख सकते है। 


दोस्तों शेयर बाजार में निवेश करने से काफी लोग कतराते है उन्हें पैसे खो देने का डर होता है लेकिन अगर पहले काफी कुछ इसके बारे में सीखते है तो आप अवश्य profit अर्जित करेंगे। वर्तमान में Investment का सबसे अच्छा Return शेयर मार्केट में ही मिलता है। 


FAQ


Nifty क्या होती है?

इसे Nifty - Fifty के नाम से भी जानते है यह भारत में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक है जिसमें भारत की मार्केट कैपिटलाइजेशन के आधार पर टॉप 50 कंपनियों को शामिल किया जाता है। यह NSE में लिस्ट होती है और इन कंपनियों के प्रदर्शन खराब होता है निफ़्टी गिरती है और अच्छा होता है तो Nifty बढ़ती है। 


सेंसेक्स क्या होता है ?

सेंसेक्स में लिस्ट कंपनिय BSE के अंतर्गतआती है , मार्केट कैपिटलाइजेशन के आधार पर Top 30 कंपनिया BSE में लिस्टेड होती है और इनके प्रदर्शन का सूचकांक सेंसेक्स होता है। अगर यह 30 कंपनियों का प्रदर्शन खराब होता है तो सेंसेक्स नीचे गिर जाता है और प्रदर्शन अच्छा होता है तो सेंसेक्स ऊपर चढ़ जाता है। 


भारत में कितने स्टॉक एक्सचेंज है ? 

भारत में दो प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज है 

NSE ( नेशनल स्टॉक एक्सचेंज )

BSE ( बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज )


निष्कर्ष

दोस्तों उम्मीद है आपको यह लेख Stock Market क्या है पसंद आया होगा और आपको इसके बारे में काफी जानकारी मिली होगी। अगर आप भी शेयर मार्केट में निवेश करना चाहते है तो इसके बारे में अच्छी तरह से जानकारी जरूर ले फिर कोई आगे कार्य करें। इसके अलावा आपके मन में स्टॉक मार्केट से जुड़ा कोई डॉउट है तो कमेंट बॉक्स में जरूर पूछें। 

दोस्तों इसी तरह की महत्वपूर्ण जानकारी अब फेसबुक पर भी उपलब्ध है आपको पास में नजर आ रहे फेसबुक पेज को लाइक और फॉलो करना है और इसके साथ इंस्टग्राम आइकॉन पर क्लिक करके मेरा साथ देना ताकि ऐसी नई नई जानकारियाँ हिंदी में आप तक पहुंचाते रहुँ। 

 दोस्तों यह लेख Stock Market क्या है और इससे पैसे कैसे कमाए अपने सभी दोस्तों और परिवार के साथ इंस्टाग्राम , व्हाट्सप्प और ट्विटर पर शेयर करें ताकि उन्हें भी सारी जानकारी हिंदी में मिल सकें। 


यह भी पढ़ें

                                                                                                                                                                                                                                                                                       

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ